Danish Kaneria: पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर दानिश कनेरिया करेंगे आयोध्या राम मंदिर के दर्शन? इंटरव्यू के दौरान कही यह बात

Danish Kaneria: पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर दानिश कनेरिया अक्सर किसी न किसी वजह से चर्चा में रहते हैं। आपको बता दें कि दानिश हिंदू हैं जो पाकिस्तान में रहते हैं। पाकिस्तान में रहने के बावजूद वे अपनी संस्कृति को नहीं भूले हैं। दुर्गा पूजा के अवसर पर दानिश माता की पूजा करते नजर आएं थे। दुर्गा अष्टमी के अवसर पर उन्होंने एक तस्वीर शेयर की थी जिसमें वे माँ दुर्गा की पूजा करते नजर आएं थे। इसकी वजह से दानिश को जमकर ट्रोल भी किया गया था। मगर इस सब के बावजूद दानिश ने अपनी सांस्कृति को नहीं छोड़ा ।

Danish Kaneria: आयोध्या के राम लला के दर्शन की जताई इच्छा

अब हाल ही में Danish Kaneria ने एक मीडिया चैनल को इंटरव्यू दिया जिसमें उन्होंने आयोध्या के राम लला के दर्शन की इच्छा जताई है। उन्होंने इस इंटरव्यू में बताया की वे बचपन से श्री राम और बजरंग बलि के भक्त हैं। राम मंदिर निर्माण और 22 जनवरी 2024 को राम मंदिर प्रांगण में प्रभु की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर अपनी ख़ुशी जाहिर की। इतना ही नहीं कनेरिया ने कहा कि अगर भगवान ने मौका दिया तो वे अपने पूरे परिवार के साथ दर्शन करने आएँगे।

हिंदू पैदा हुआ और हिंदू ही मरूंगा

अपने इंटरव्यू में दानिश कनेरिया ने बताया कि उन्हें हिंदू होने पर गर्व है। वो पैदा हिंदू धर्म में हुए और मरेंगे भी हिंदू। इस इंटरव्यू में उन्होंने भगवान श्री राम के जीवन से सिख लेने की बात कही। दानिश ने कहा कि हर परिस्थिति में संघर्ष करना चाहिए, कभी हार नहीं माननी चाहिए। उन्होंने कहा कि भगवान राम ने सीख दी है कि बुरी से बुरी परिस्थितियाँ भी बदल जाती हैं यदि आपका विश्वास पक्का हो तो।

पाकिस्तान टीम पर भेदभाव के लगाएं आरोप

आपको बता दें की दानिश ने पाकिस्तान टीम पर भेद भाव के आरोप लगाएं। उन्होंने कहा की हिंदू होने की वजह से उनका करियर बर्बाद कर दिया गया। पाकिस्तान में हिंदू और अन्य अल्पसंख्यक के साथ हो रहे भेदभाव के लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा की यदि पाकिस्तान में भेदभाव नहीं होता तो उनके अलावा और कोई हिंदू या अन्य अल्पसंख्यक खिलाड़ी इंटरनेशनल स्टेज पर क्यों नहीं आ पाएं?

बता दें की कुछ समय पहले इस खिलाड़ी ने आयोध्या राम मंदिर को लेकर एक ट्वीट भी किया था। उन्होंने इस ट्वीट में कहा था कि, “हमारे लिए यह एक धर्मिक स्थल है। यदि मुझे मौका मिला तो मैं निश्चित ही आयोध्या जाऊगा। मैं एक समर्पित हिंदू हूँ और हमेशा राम के दिखाए गए मार्ग पर चलने की कोशिश करता हूँ”। बहुत सारे लोग उनके आस्था को लेकर उनकी तारीफ कर रहे हैं वहीं कुछ कट्टर मुस्लिम और वामपंथी लोग दानिश को गालियाँ और धमकी दे रहे हैं।

यह भी पढ़ें: Pakistan Fuel Crisis: अपने अब तक के इतिहास में पाकिस्तान ने नहीं झेली थी ऐसी कंगाली, हवाई जहाज में तेल भरने के भी नहीं है पैसे

Leave a Comment