Thursday, December 8, 2022

योगी आदित्यनाथ ने बंद करा 20 साल पुराना हिन्दू संगठन

आज से 20 साल पहले योगी आदित्यनाथ ने जिस हिन्दू युवा वाहिनी की शुरुआत करी थी आज खुद ही योगी ने इसको बंद कर दिया है अब हिन्दू वाहिनी की सभी इकाइयां खत्म हो गई हैं, चाहे वह जिले की हो या प्रदेश स्तर की, अब हिंदू युवा वाहिनी की कोई इकाई नहीं रहेगी। योगी आदित्यनाथ ने पहले ही इसे बंद करने के आदेश दिए थे पर कही न कही इसको कोई इकाई चलती ही रहती थी, परन्तु इस बार वाहिनी को पूरी तरीके से बंद कर दिया गया है।

प्रदेश प्रभारी राघवेंद्र प्रताप सिंह ने यह जानकारी देते हुए बताया कि जल्‍द ही इकाइयों का पुनर्गठन किया जाएगा। उन्‍होंने बताया कि लम्‍बे समय से संगठन में इकाइयों का पुनर्गठन नहीं हुआ था। इसी उद्देश्‍य से इन्‍हें भंग किया गया है।

क्या है हिन्दू वाहिनी?

हिंदू युवा वाहनी एक सांस्कृतिक और सामाजिक संगठन है। इसकी मूल विचारधारा हिंदुत्व और राष्ट्रवाद है। हिंदू युवा वाहिनी समाज में से जातिवाद, ऊच-नीच को ख़त्म करने के लिए निरंतर कार्य करता आया है। वाहिनी का प्रयास हमेशा सनातन और देश हित में रहा है, जो हिन्दू और सनातन विरोधी गतिविधियों पर मौन ना रहने सबको सीख देती आई है।

कैसे शुरू हुई थी वाहिनी? 

वाहिनी का गठन 2002 में योगी आदित्‍यनाथ ने सांसद रहते किया था। धीरे धीरे ये संगठन मजबूत होता गया, फिर इसी वाहिनी ने योगी आदित्यनाथ के 2004, 2009 और 2014 चुनावो में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और योगी को प्रचंड जीत दिलवाई, फिर इस वाहिनी ने योगी के मुख्यमंत्री बनने के बाद पूरे उत्तर प्रदेश में अपनी जडें फैला दी। 2022 के चुनाव में भी वाहिनी ने पूरी ताकत से भाजपा उमीदवारो के पक्ष में प्रचार अभियान चलाया था। वाहिनी हमेशा से ही उत्‍तर प्रदेश के शहरी और ग्रामीण इलाकों में जगह-जगह समाज के सभी वर्गों के साथ सहभोज के आयोजन करती आई है और सामाजिक समरसता और हिन्‍दुत्‍व का संदेश पहुँचाती आयी है।

HumLog
HumLoghttp://humlog.co.in/
HumLog.co.in समाचारों व विचारों का ऐसा पोर्टल, जो आप तक उन ख़बरों को लाता है, जिन्हें भारत की मेनस्ट्रीम मीडिया अक्सर दबा देती है या नजरअंदाज करती है.
RELATED ARTICLES

Most Popular