Tuesday, September 27, 2022

क्या होता है Blue Aadhar Card, कैसे और कौन ले सकता है सकता है ? जानिए पूरी डिटेल…

Blue Aadhar Card: किसी भी काम के लिए हमें सबसे पहले आधार कार्ड (Aadhaar Card) देना जरूरी होता है। चाहे वह काम बैंक (Bank) से जुड़ा हो या हो जमीन जायदाद (Property) से। क्योंकि आधार कार्ड प्रत्येक व्यक्ति का एक पहचान होता है। आधार कार्ड के बिना हमारा कोई भी काम नहीं होता। छोटा से छोटा और किसी भी तरह का काम हम बिना आधार के नहीं कर सकते। आधार कार्ड बनवाने के लिए हमें 18 साल तक इंतजार नहीं करना होता। लेकिन क्या आपको पता है कि आधार कितने तरह का होता है। क्या आपने कभी नीला रंग का आधार कार्ड देखा है। आइए आपको पूरी खबर विस्तार से बताते हैं।

क्या होता है आधार कार्ड

आधार कार्ड का इस्तेमाल ज्यादातर जरूरी कामों में होता है। UIDAI द्वारा 12 अंकों का एक नंबर जारी होता है। इस नंबर को यूनीक आईडेंटिफिकेशन नंबर कहा जाता है। आधार कार्ड में आपका डेमोग्राफी के साथ-साथ बायोग्राफी डाटा भी होता है। आधार कार्ड भारत का प्रत्येक नागरिक ले सकता है। विदेशी नागरिकों के लिए यह सुविधा कागजात देने के बाद ही उपलब्ध करवाई जाती है। बच्चों के आधार कार्ड को बाल आधार कहा जाता है। बाल आधार बच्चों के आधार से मिलता-जुलता ही होता है। लेकिन इसमें थोड़ी सी भिन्नता होती है।

बाल आधार कार्ड कैसे हैं व्यस्कों से अलग

आपको बता दें कि बाल आधार कार्ड बनवाने के लिए भी सभी प्रकार के डाक्यूमेंट्स देने होते हैं। आपको सपोर्ट एंड कमेंट के साथ नामांकन केंद्र पर जाना होता है। आधार केंद्र पर जाकर आवेदन पत्र भरना होता है। इसके लिए रेजिडेंस प्रूफ, रिलेशनशिप प्रूफ के साथ ही साथ जन्मपत्री भी देना होता है। आपको बताते चलें कि यूआईडीएआई कुल 31 तरह के पीओआई और 44 पीओए, 14 डेट ऑफ बर्थ दस्तावेज को स्वीकार करता है। आम शब्दों में कहे तो आप 44 तरह के दस्तावेज में से किसी भी तरह के 2 दस्तावेज देकर आधार कार्ड बनवा सकते हैं। बाल आधार कार्ड एक अलग तरह का आधार कार्ड होता है।

Also Read:- अपने पर्स से आज ही निकाल दे ये चीज़े, नहीं तो हमेश रहेगी पैसो की कमी….

बाल आधार कार्ड को ही नीला आधार कार्ड कहते हैं

आपको बता दें कि बाल आधार कार्ड को ही नीला आधार कार्ड कहते हैं। 5 वर्ष से कम उम्र के बच्चे को नीले रंग का आधार कार्ड मिलता है। जब बच्चा 5 वर्ष से अधिक वर्ष का हो जाता है। तो यह नीला आधार कार्ड मान्य नहीं होता। आधार कार्ड बनवाने के बाद हमें 15 वर्ष के बाद दोबारा से डेमोग्राफी के साथ ही साथ बायोमेट्रिक भी अपडेट करवाना होता है। कुछ लोग आधार कार्ड अपडेट करवाना भूल जाते हैं। आधार कार्ड अपडेट करवाना बेहद जरूरी होता है। अगर आपने भी 15 वर्ष की उम्र से पहले आधार कार्ड बनवाया था। तो जल्दी ही आधार कार्ड अपडेट करवा लें।

RELATED ARTICLES

Most Popular