हर जुम्मे की रात को दुल्हन बनती हैं ये मोहतरमा,कारण हैरान करने वाले!

हर जुम्मे की रात को दुल्हन बनती हैं ये मोहतरमा: दुनिया की बात कर तो हर किसी लड़की की ख्वाहिश होती है कि वह एक बार दुल्हन जरूर बनती है. हालांकि कुछ लड़कियां अपने जीवन में दो या तीन बार भी दुल्हन बन जाती है. लेकिन आज तो हम आपको एक ऐसी महिला से मिलवाने जा रहे हैं जो हर जुम्मे के दिन ही दुल्हन बनती है. हालांकि आपको इस बात पर हो सकता है कि यकीन ना हो रहा हो लेकिन सच्चाई जानकर आप लोग भी हैरान रह जाएंगे.

यहां आपको बता दे कि इस महिला का नाम हीरा जीशान है और मूल रूप से तो यह पाकिस्तान के लाहौर के पंजाब प्रांत की रहने वाली महिला है. 44 साल की आयु में जीशान पिछले 19 साल से हर एक शुक्रवार को 16 सिंगार करके दुल्हन की तरह सजती है.

दरअसल करीब 19 साल पहले ही जीशान की मां काफी बीमार हो गई थी और मरने से पहले वह अपनी बेटी की शादी करना चाहती थी. ऐसे में मां की अंतिम इच्छा को पूरी करने के लिए जीशान ने उसे शक्ति से शादी कर ली जिसने उसकी मां को खून दिया था. अस्पताल में ही यह शादी हुई और रिक्शा से उनकी विदाई हुई थी.

हालांकि कुछ समय के बाद उनकी मां की मौत भी हो गई वही शादी के बाद जीशान के 6 बच्चे हुए जिनमें दो की मृत्यु हो गई है और इस घटना से है काफी अवसाद में चली गई डिप्रेशन से बाहर आने के लिए जीशान ने हर शुक्रवार को दुल्हन की तरह सजना शुरू कर दिया इससे उनका काफी खुशी भी मिलती है और अकेलापन भी काटता रहता है क्योंकि उनके पति लंदन में रहते हैं.