आर्टिकल-30 हटाने की मांग तेज,सिर्फ समुदाय विषेस को फायदा पहुचाने के लिए बनाया गया था ये अनुच्छेद…

भारतीय जनता पार्टी के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय जो अक्सर अपने बयानों के लिए चर्चा में रहते हैं उन्होंने एक बार फिर नई बहस को हवा दे दी है! दरअसल उन्होंने भारतीय संविधान के अनुच्छेद 30 के औचित्य पर सवाल उठाया है! जिसके लिए बड़े जनता पार्टी के नेता ने गुरुवार को ट्वीट कर कहा कि “संविधान के अनुच्छेद 30 ने समानता के अधिकार को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाया है!”

उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है कि “देश में संवैधानिक समानता के अधिकार को आर्टिकल 30 सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचा रहा है यह अल्पसंख्यकों को धार्मिक प्रचार और धर्म शिक्षा की जाए देता है जो दूसरे धर्मों को नहीं मिलती जब हमारा देश धर्मनिरपेक्षता का पक्षधर है तो आर्टिकल 30 की क्या जरूरत!”

कैलाश विजयवर्गीय किस बात के बाद सोशल मीडिया पर एक बार फिर से हंगामा मचा हुआ है! कैलाश विजयवर्गीय के इस ट्वीट को कांग्रेस नेता केके मिश्रा ने पलटवार करते हुए कहा है कि “देश विदेश में कोरोना के कारण इंसान, इंसानियत खतरे में है ऐसे में भाजपा का आर्टिकल 30 हटाने का प्रायोजित खेल! नफरत के वायरस कथित हिंदू वादियों की अल्पसंख्यकों के खिलाफ नफरत फैलाने की कोशिश है यह! है मोदी सरकार आर्टिकल 30 हटाने का माहौल बना रही है और यह इसकी शुरुआत है!”

कैलाश विजयवर्गीय के इस ट्वीट के बाद ट्विटर पर #आर्टिकल_30_हटाओ जोर शोर से चल रहा है! जिसके चलते लोग अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं! एक कहना है कि “आर्टिकल 30 के अनुसार शिक्षण संस्थानों में हिंदू धर्म की शिक्षा नहीं दी जा सकती जबकि अल्पसंख्यक धर्मों की शिक्षा दी जा सकती है क्या हिंदुओं का बहुसंख्यक होना भी गुनाह है!”

वही एक और यूजर का कहना है कि “आर्टिकल 30 में लिखा है कि धर्म के आधार पर अल्पसंख्यक शिक्षा संस्थान स्थापित करने या चलाने का अधिकार है तो बहुसंख्यक समाज के साथ धार्मिक भेदभाव क्यों?”

अब इस मामले ने तूल पकड़ना शुरू कर दिया है! सोशल मीडिया पर तरह-तरह की प्रतिक्रिया आ रही है! लेकिन वही आर्टिकल 370 की तरह आर्टिकल 30 को लेकर भी कांग्रेस इसका विरोध कर रही है! कांग्रेस के नेता का आरोप है कि भारतीय जनता पार्टी 370 की तरह ही आर्टिकल 30 को हटाने का माहौल बना रही है! खैर, सोशल मीडिया पर तो अभी तक इसी के सपोर्ट में खड़े होते नजर आ रहे हैं! # आर्टिकल_30_हटाओ का कैंपेन भी जोर शोर से चला रहे है!

HumLog
HumLoghttp://humlog.co.in/
HumLog.co.in समाचारों व विचारों का ऐसा पोर्टल, जो आप तक उन ख़बरों को लाता है, जिन्हें भारत की मेनस्ट्रीम मीडिया अक्सर दबा देती है या नजरअंदाज करती है.
RELATED ARTICLES

Most Popular