सिख लड़कियां करतारपुर गई थी, मत्था टेकने, पाकिस्तानी लड़के उठा के ले गए

0
470
sikh-girl-went-missing-in-kartarpur-sahib-3
Pic Credit - Google Images
sikh-girl-went-missing-in-kartarpur-sahib-2
Pic Credit – Google Images

नवजोत सिंह सिद्धू और इमरान खान ने पाकिस्तान से करतारपुर कॉरिडोर बनाकर सिखों से जमकर वाहवाही लूटी थी. शुरुआत में करतारपुर कॉरिडोर की सभी चीजें सही लग रही थी, लेकिन जैसे-जैसे समय बीत रहा है इसके नुक्सान सामने आने लगे हैं.

भारत की सुरक्षा एजेंसिया पहले ही इस करतारपुर कॉरिडोर को किसी साजिश का हिस्सा बता रही थी. लेकिन तब पंजाब की सरकार और नवजोत सिंह इमरान खान की तारीफ करने में कोई कमी नहीं छोड़ रहे थे.

अभी एक ऐसी घटना सामने आयी है, जिससे सुरक्षा एजेंसिया भी हैरान हैं. दरअसल हरियाणा में रहने वाली एक लड़की करतारपुर कॉरिडोर के जरिए पाकिस्तान में गुरुद्वारा साहिब के दर्शन करने के लिए गयी थी. जहां से खबर आ रही हैं की, लड़की वापिस भारत में नहीं आयी.

पाकिस्तान में अल्पसंख्यक लड़कियों की क्या स्थिति होती है, उससे सारी दुनिया परिचित हैं. ऐसे में यह खबर आना की लड़की करतारपुर कॉरिडोर के जरिए पाकिस्तान जाये और वहां से भारत लौट कर न आये यह हैरानी की बात हैं.

मामले पर खैर कार्यवाही हुई, बात मीडिया आयी तो प्रशासन ने जल्दबाज़ी में काम करते हुए पाकिस्तान को इस बारे में सूचना दी. पाकिस्तान की पुलिस ने भी बदनामी के डर से जल्द ही लाहौर और फैसलाबाद रहने वाले चार लड़कों को गिरफ्तार किया और लड़की को सकुशल भारत के हवाले किया.

इस बात की जानकारी सबसे पहले दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन कमिटी के अध्यक्ष और अकाली दल के नेता मनजिंदर सिंह सिरसा द्वारा ट्विटर पर दी गयी थी. ऐसे में सवाल यह है की, अगर यह लड़की किसी बड़े घराने या फिर किसी नेता की होती और अगवा करने वाले लड़के आतंकी होते तो भारत के सामने क्या मांग रखते लड़कियों के बदले में?