दीपिका ने पाकिस्तानी एजेंट से 5 करोड़ लिया था JNU जाने के लिए,रॉ अधिकारी का खुलासा…

0
3932
एनके सूद, NK sood, dipika padukone, deepika padukone

दीपिका पादुकोण, जो छपाक ’फिल्म के प्रचार के दौरान जेएनयू प्रो-टेस्ट में दिखी थीं, एक बार फिर सुर्खियों में हैं। उन पर जेएनयू में प्रद-र्शन कारियों के बीच खड़े होने के लिए पाकिस्तानी एजेंट अनिल मुसरत से लगभग 5 करोड़ रुपये लेने का आरोप है। मामला उजागर होने के बाद ईडी अब इसकी जांच कर रहा है। एनके सूद एक सामान्य नागरिक नहीं हैं जो दीपिका पर इस तरह के गंभीर आरोपों का खुलासा कर रहे हैं, बल्कि भारतीय खुफिया एजेंसी रॉ के एक पूर्व अधिकारी हैं। एनके सूद का कहना है कि अनिल मसर्रत ने दीपिका को फोन किया और उसे जेएनयू जाने के लिए कहा। हाल ही में सुशांत सिंह की मौ-त के बाद, पूरे मामले को बॉलीवुड के काले सच के खुलासे और उद्योग से जुड़े लोगों के पाकिस्तानी एजेंटों के बीच संबंधों के कारण गर्म कर दिया गया है। इस बीच, एनके सूद ने अपने एक वीडियो में दीपिका के जेएनयू जाने के पीछे की सच्चाई का खुलासा किया है। इससे पहले, यह बताया गया था कि यह उनका पीआर स्टंट था।

एनके सूद ने अपने वीडियो में अनिल मुसरत के पेशे के बारे में बताया और यह भी जानकारी दी कि अनिल मुसरत पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के करीबी हैं। जिसके कारण उन्होंने इमरान खान की पार्टी पीडीआई को भी भरपूर समर्थन दिया है। इसके अलावा, अनिल के पाकिस्तानी सेना और पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के साथ भी करीबी रिश्ते हैं।

इन सभी चीजों के बावजूद, कई बॉलीवुड हस्तियां हैं जो अनिल के साथ लगातार जुड़ी हुई हैं। कई प्रसिद्ध चेहरे जैसे कि करण जौहर, अनिल कपूर इसमें प्रमुख नाम हैं। अनिल की बेटी की शादी में कई बॉलीवुड कलाकार भी शामिल हुए और जब अनिल कपूर की बेटी यानि सोनम कपूर की शादी हुई, तो पाकिस्तानी एजेंट अनिल इसमें नजर आए। एनके सूद के अनुसार, अनिल मुसरत अपनी कई भारत-वि-रोधी गतिविधियों का समर्थन करते हैं और जब भी लंदन में सीएए का वि-रोध प्र-दर्शन हुआ, तब भी उन्होंने उस प्रो-टेस्ट की फंडिंग की। इसके अतिरिक्त, जिन फिल्मों में हिंदू देवी-देवताओं को अभद्रता के साथ दिखाया जाता है, अनिल मुसर्रत उन को भी वित्त देने के लिए भी तैयार हैं। मनी लॉन्ड्रिंग और टे-टर फंडिंग जैसे मामलों पर ब्रिटिश प्रशासन द्वारा अनिल मुसरत से कई बार पूछताछ की गई है।

24 जुलाई को भारतीय सुरक्षा अनुसंधान समूह नामक एक यूट्यूब चैनल पर डाले गए वीडियो के 24 वें स्लॉट पर, आप सुन सकते हैं कि एनके सूद जनवरी में दीपिका पादुकोण के जेएनयू जाने का जिक्र कर रहे हैं। उनका कहना है कि दीपिका जनवरी 2020 में जेएनयू गई थीं। वहाँ टु-कड़े-टु-कड़े गैं-ग का प्रद-र्शन चल रहा था वह वहां उनका समर्थन करने और अपनी फिल्म के प्रचार के लिए गई थीं। लेकिन उन्होंने यह सब अनिल मसर्रत के कहने पर किया।

उनका कहना है कि अनिल मुसर्रत उस समय दुबई में थे और उन्होंने दीपिका को वहां से बुलाया। जिसके बाद दीपिका इस प्रद-र्शन में शामिल हुईं। वह पूछते हैं कि क्या दीपिका ने अनिल को पाकिस्तान में कुछ ऐसा करने के लिए कहा होगा? नहीं, क्योंकि वे बिक जाते हैं। उस समय, पाकिस्तान की सेना के प्रवक्ता ने भी दीपिका का समर्थन किया था। एक अन्य वीडियो में उन्होंने बताया है कि अब ईडी ने बॉलीवुड अभिनेताओं पर अपनी पकड़ मजबूत कर ली है। वह उन हस्तियों की जांच कर रही है जिनके विदेश में बैंक खाते या संपत्ति है। इसके अलावा, दीपिका पर जांच शुरू हो चुकी है क्योंकि यह आरोप लगाया गया था कि जेएनयू जाने के लिए उन्हें पाकिस्तानी एजेंट से पांच करोड़ रुपये मिले थे।