जिस चीज का पूरा देश कर रहा था इंतजार,वो समय आ गया,अगले महीने ही आ रहा राफेल….

0
169

आइए आपको एक बड़ी खबर से रूबरू कराए। फ्रांस से जो 4 राफेल मई में आने वाली थी अब वो जुलाई में अम्बाला पोहचंगे वो भी 4 से बढ़कर 6 राफेल आएगे अब।

राजदूत इमैनुएल लेनिन ने फ्रांस में कहा था कि भारत को 36 राफेल लड़ाकू विमानों की आपूर्ति में कोई देरी नहीं होगी। और जिस भी समय भारत की सीमा तय हो जाएगी उसी समय से उसका सख्ती से पालन किया जाएगा।

सूत्रों से पता चला है कि भारत ने सितंबर 2016 में फ्रांस के साथ 36 राफेल लड़ाकू विमानों की खरीद 58,000 करोड़ रुपए की लागत के साथ किया था।

एक और बड़ी खबर सामने आई की अप्रैल के अंत में फ्रांस ने भारतीय वायु सेना को एक नया विमान दिया है! लेनिन ने बताया की भारत राफेल विमानों का समान कार्यक्रम बोहत इज़्ज़त के साथ करता है!

8 अक्टूबर को हमारे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने फ्रांस में पहला राफेल जेट विमान का सोडा किया था वही राजदूत का कहना है कि हम भारत के 4 राफेल जेट विमान को सुरक्षित फ्रांस से भारत लेजाने में उनकी सहायता करेंगे। और इस बात से साफ़ स्पष्ट होता है,कि यह कयास लगाए जाने का कोई कारण नहीं हैं की राफेल जेट विमान को फ्रांस से भारत लाते समय सिमा का पालन किया जाएगा या नहीं।

कोरोना वायरस की महामारी से जूझता हुआ फ्रांस यूरोप के सबसे प्रभावित देशों में से एक है! फ्रांस में कोरोना महामारी से एक लाख 45 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित पाए गए है! जबकि 28,330 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है! यह भी अनुमान लगाया जा रहा था की कोरोना वायरस की महामारी की वजह से इन विमानों को लाने में देर हो सकती है। जबकि विमानों को जुलाई में फ्रांस से अम्बाला में लाया जाएगा।