पाकिस्तान की टोटल GDP के करीब अकेले पहुंचे मुकेश अम्बानी की कंपनी, देखें कितने लाख करोड़

0
216
mukesh-ambani-ril-market-cap-half-of-pakistan-gdp-1
Pic Credit - Google Images
mukesh-ambani-ril-market-cap-half-of-pakistan-gdp-3
Pic Credit – Google Images

क्या आप जानते हैं? पाकिस्तान की कुल जीडीपी कितनी हैं? अगर नहीं तो आपको बता दें पाकिस्तान की कुल जीडीपी है 23 लाख करोड़ रूपए. लेकिन सबसे हैरानी की बात यह है की एशिया के सबसे अमीर इंसान मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड का मार्किट कैप गुरुवार को 10 लाख करोड़ के पार चला गया.

जिसका मतलब है की, पाकिस्तान की कुल जीडीपी के मुकाबले आधा पैसा अकेले मुकेश अम्बानी के पास मजूद हैं. इसी के साथ अगर बात करें भारत की जीडीपी की तो भारत की जीडीपी 190 करोड़ रूपए की है. जिसका मतलब हुआ की भारत की जीडीपी के मुकाबले मुकेश अम्बानी के पास लगभग 5 प्रतिशत पैसा मजूद हैं.

शेयर मार्किट एक्सपर्ट्स का कहना है की पिछले लगभग 30 सालों में रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड का मार्किट कैप 60 हजार प्रतिशत बढ़ा हैं.आपको बता दें की अगस्त 2005 में कंपनी का मार्केट कैप 1 लाख करोड़ रूपए का ही था मात्र 14 साल में ही यह 10 गुना बढ़कर 10 लाख करोड़ का हो गया.

जियो को लांच करने से पहले तक जुलाई 2017 में इसकी मार्केट वैल्यू 5 लाख करोड़ रूपए की थी. जियो की सफलता के बाद यह मात्र दो साल में ही इसका मार्किट कैप दोगुना हो गया. 2017 में मुकेश अम्बानी की अपनी संपत्ति 23 अरब डॉलर की थी जो की 2019 में बढ़कर 61 अरब डॉलर की हो गयी.

अगर हम विश्व की दूसरी कंपनियों की बात करें तो मार्किट कैप के हिसाब से मुकेश अम्बानी की कंपनी अभी विश्व में यह 67वें नंबर पर आती है. मार्किट कैप के आंकड़ों की बात करें तो सऊदी अरामको 1700 अरब डॉलर के साथ विश्व की पहले नंबर की सबसे बड़ी कंपनी हैं.

mukesh-ambani-ril-market-cap-half-of-pakistan-gdp-2
Pic Credit – Google Images

1190 अरब डॉलर के साथ दूसरे नंबर पर एप्पल की कंपनी हैं. 1162 अरब डॉलर के मार्किट कैप के साथ माइक्रोसॉफ्ट तीसरे नंबर के स्थान पर मजूद हैं. फिलहाल मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड पर 2.87 लाख करोड़ रूपए का क़र्ज़ है और कंपनी ने आधिकारिक रूप से कहा है की 2021 से पहले ही हम सारा क़र्ज़ उतार देंगे.