युवा सांसद जामयांग सेरिंग नामग्याल को पता भी नही चला की उन्हें, लद्दाख का BJP चीफ बना दिया गया है,बाद में ऐसे चला पता…

0
830

MP Jamyang Sering Namgyal has been made the president of Ladakh Bharatiya Janata Party: सांसद जामयांग सेरिंग नामग्याल को लद्दाख भारतीय जनता पार्टी का अध्यक्ष बनाया गया है। उन्होंने बताया कि उन्हें अभी इस बारे में पता चला है। इस दौरान वह एक बैठक में व्यस्त थे। वह वही जामयांग सेरिंग हैं, जिन्होंने पिछले साल संसद में एक शक्तिशाली भाषण दिया था, जब लद्दाख को जम्मू-कश्मीर से अलग केंद्र शासित प्रदेश बनाने का फैसला किया गया था। पहली बार संसद में अनुच्छेद 370 और जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन विधेयक पर चर्चा के दौरान पहली बार संसद में आए जामयांग सेरिंग नामग्याल ने अपनी बात कुछ ऐसे अंदाज में कही थी कि गृह मंत्री अमित शाह और प्रधान मंत्री भी उनकी प्रशंशा कर रहे थे।

छात्र राजनीति से लोकसभा तक का सफर

जामयांग सेरिंग लद्दाख से भारतीय जनता पार्टी के सांसद हैं। 34 वर्षीय का यह युवा सांसद भौगोलिक आधार पर भारत के सबसे बड़े निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करता है। जामयांग लद्दाख के उन नेताओं में से एक हैं जो लद्दाख को केंद्रशासित प्रदेश बनाने के लिए लंबे समय से लड़ाई लड़ रहे हैं। नामग्याल छात्र राजनीति से देश के सबसे बड़े लोकतांत्रिक सदन में पहुंचने वाले है जोकि अब लद्दाख का प्रतिनिधित्व करते हैं। 4 अगस्त 1985 को जन्मे, नामग्याल पहले सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ बुद्धिस्ट स्टडीज के छात्र रहे हैं और जम्मू विश्वविद्यालय से स्नातक किये हैं।

जीत भी रिकॉर्ड मतों से दर्ज की गई

सक्रिय राजनीति में शामिल होने से पहले, जामयांग ने ऑल लद्दाख स्टूडेंट एसोसिएशन में विभिन्न पदों पर कार्य किया है और कुछ समय के लिए लद्दाख के सांसद थुपस्टोन चवांग के निजी सचिव के रूप में भी कार्य किया है। 2015 में, जामयांग सेरिंग ने लद्दाख स्वायत्त पहाड़ी विकास परिषद का चुनाव लड़ा और रिकॉर्ड मतों से जीता। इस चुनाव के कुछ समय बाद, जामयांग हिल डेवलपमेंट काउंसिल आठवे मुख्य कार्यकारी परिषद बन गए। इसके बाद, 2019 के लोकसभा चुनावों में, भाजपा ने जामयांग सेरिंग पर भरोसा करते हुए उन्हें लद्दाख सीट के लिए उम्मीदवार बनाया और सेरिंग ने इस सीट से जीत हासिल की।