मोहम्मद नूर और उसके भाई ने PM CARES फंड के नाम पर लूट लिए 52 लाख, उसके बाद….

0
14513

Mohammad Noor and his brother looted 52 lakhs in the name of PM CARES Fund: पूरे देश में कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए लॉकडाउन किया हुआ है! कोरोना वायरस की गंभीरता को देखते हुए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुछ कड़े फैसले लिए! जिसके कारण पूरी दुनिया पीएम मोदी की तारीफ के पूल बांध रही है! इस कदमो में से पीएम मोदी ने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए PM Cares फंड बनाया था! ताकि इस फंड के द्वारा जमा राशि से देश में आर्थिक तंगी को दूर किया जा सके! क्योकि इस समय देश काफी बड़ी विपदा से झूझ रहा है! ऐसे में हर कोई इस फंड के जरिये अपना अपना योगदान देकर तमाम उन लोगो की सहायता की जा सके जो आर्थिक रूप से कमजोर है, जिनके पास जीवन व्यतीत करने के लिए उपयुक्त सामग्रियों का आभाव है!

लेकिन कुछ ऐसे भी लोग है जो इसमें भी अपना स्वार्थ निकालने में लगे हुए! आपको मालूम है कि निजामुद्दीन के बाद अच्चानक से देश में कोरोना संक्रमित लोगो की संख्या में इजाफा आया है! एक-दो नहीं बल्कि बड़ी संख्या में इजाफा हुआ है! जिसके बाद जमात के लोगो को ढूंढा भी जा रहा है! यहां तक कि जो लोग अस्पताल में ट्रीटमेंट करवा रहे है वे लोग भी अभर्द व्यवहार कर रहे है!

परन्तु कुछ मजहबी उन्मादियों ने देश में हर तरीके से आतंक मचाया हुआ है! अब 2 सगे मजहबी उन्मादी भाइयों ने पीएम केयर फंड के नाम पर देश की जनता से 52 लाख रुपए की लूट की है! वह पीएम केयर फंड जिसमे लोगो ने कोरोना से लड़ने के लिए डोनेशन दिए है! लेकिन इन लोगो ने देश के लिए डोनेट तो कुछ नहीं किया बल्कि पीएम केयर फंड के नाम पर ठगी का कारोबार ही चला दिया!

जानकारी के लिए बता दे कि यह मामला देश के झारखंड राज्य के हजारीबाग का है! बताया जा रहा है कि पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है! जिनका नाम क्रमश: मोहम्मद नूर और मोहम्मद इफ्तिखार है! ये दोनों सगे भाई है! आरोप है कि इन्होने देश के जनता से (जब देश आज ऐसी समस्या है) 52 लाख की लूट कर ली! बता दे कि दोनों ने PM Cares फंड की फर्जी वेबसाइट बनाई और वहां पर अपने खाते दे दिए, एक खाता पंजाब नेशनल बैंक का तो दूसरा यूनियन बैंक का है!

इतना ही नहीं, बल्कि इन लोगो ने इमोशनल मैसेज के साथ अपनी फ़र्ज़ी वेबसाइट का लिंक शेयर किया! अब जब बात देश की हो रही हो तो कोई भी डोनेशन करने से पीछे कैसे रह सकता है! लेकिन इन लोगो ने उस बात का फायदा उठाया और दोनों ने लोगो से 52 लाख रुपए लूट लिए! हालांकि, पुलिस ने दोनों को पकड़ लिया है! लेकिन इन दोनों एक अलावा एक और सक्श है जोकि उनके इस अपराध में शामिल है! जिसका नाम मुफस्सिल बताया जा रहा है जोकि अभी तक फरार है!

Note: हम आप सभी से आग्रह करते है कि ऐसे वक़्त में जब देश मुश्किलों से घिरा हुआ है! आपको किसी पर भी फ़र्ज़ी होने का शक हो तो आप अपने नजदीकी पुलिस स्टेशन में जानकारी जरूर दे! क्योकि ऐसे लोग देश के लिए सबसे बड़ा खतरा है! हम सब मिलकर कोरोना को तो हरा सकते है लेकिन ऐसे लोगो को हराना उससे भी ज्यादा जरूरी है!