सनातन के पवित्र मंदिर ISKCON पर लगाया मेनका गांधी ने इल्जाम, मिल गया अदालत से नोटिस, अब देने पड़ेगे इतने करोड़…

भाजपा सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी इन दिनों काफी बड़े विवाद में फस गई है क्योंकि उन्होंने हाल ही में इस्कॉन संस्था पर एक बड़ा आरोप लगा दिया था कि वह गायों को कसाइयों के हाथ भेज देता है और अब इस मामले पर संसद की मुश्किलें बढ़ती हुई नजर आ रही है.

दरअसल इस्कॉन ने अब मेनका गांधी के ऊपर 100 करोड़ का मानहानि का नोटिस भेज दिया है और इस समिति के अध्यक्ष तथा प्रवक्ता राधा रमन उदास ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट लिखा है और कहां है कि आज हमने ISKCON के खिलाफ पूरी तरीके से निराधार आरोप लगाने के लिए मेनका गांधी को 100 करोड़ का नोटिस जारी किया है.

वही, दास ने कहा,

“इस्कॉन के भक्तों, समर्थकों और शुभचिंतकों का विश्वव्यापी समुदाय इन अपमानजनक, निंदनीय और दुर्भावनापूर्ण आरोपों से बहुत दुखी है। हम इस्कॉन के खिलाफ भ्रामक प्रचार के खिलाफ न्याय की खोज में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे।”

भारतीय जनता पार्टी सांसद, जो एक पशु अधिकार कार्यकर्ता भी हैं, के खिलाफ कानूनी मानहानि का नोटिस 27 सितंबर को सोशल मीडिया पर उनका एक वीडियो वायरल होने के कुछ दिनों बाद आया है।

उन्होंने 27 सितंबर को एक पोस्ट में कहा-

“अगर वह अपने झूठे बयानों के लिए माफी नहीं मांगती हैं, हम उस पर मुकदमा करेंगे”

दरअसल हाल ही में मेनका गांधी का एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें उनका यह कहते हुए देखा जा सकता था कि इस कौन देश में सबसे बड़े धोखेबाज हैं. वह गौशालाओं का रखरखाव करता है और विशाल भूमि सहित सरकार से लाभ ही लेता है. उन्होंने आंध्र प्रदेश में इस्कॉन की अनंतपुर गौशाला की अपनी यात्रा को भी याद किया था. जहां उन्होंने यहां तक दावा कर दिया कि उन्हें ऐसी कोई भी गए नहीं दिखाई दी जो दूध न देती हो या बछड़े ना देती हो.

वीडियो में उनको कहते हुए सुना जा सकता है कि पूरी डेयरी में कोई सुखी गए नहीं थी वहां एक भी बछड़ा नहीं था इसका मतलब तो यह हुआ कि सब बेच दिया जाता है. उन्होंने दावा किया था कि इस्कॉन अपनी सारी गए कसाइयों को बेच रहा है और वह सड़कों पर हरे राम हरे कृष्णा गाते हैं फिर वह कहते हैं कि पूरा जीवन दूध पर निर्भर है. इतना ही नहीं बल्कि मेनका गांधी ने आरोप लगाया कि किसी ने भी इतनी मवेशी कसाइयों को नहीं बेचे हैं जितने ISKCON ने बेचे हैं हालांकि इन आरोपों को ISKCON ने सिरे से खारिज कर दिया।

Leave a Comment