कर्नाटक उपचुनाव: BJP भारी जीत की ओर, वहीं कांग्रेस और जेडीएस इन सीटों पर कर रही संघर्ष

0
84
karnataka-bypoll-result-election-bjp-yeddyurappa-government-1
Pic Credit - Google Images
karnataka-bypoll-result-election-bjp-yeddyurappa-government-2
Pic Credit – Google Images

कर्नाटक में उप-विधानसभा चुनावों में डाली गयी वोटों की गिनती जारी हैं, मतगणना के अनुसार भारतीय जनता पार्टी के विधायक 12 सीटों पर आगे चल रहें हैं. वहीं कांग्रेस के दो विधायक आगे चल रहें हैं और एक निर्दलीय विधायक बढ़त बनाये हुए हैं.

बताया जा रहा हैं की यह नतीजा बीजेपी की सरकार के लिए बहुत ही ज्यादा जरूरी हैं, इससे विधानसभा में कुल 222 सीट्स हो जाएंगी और सरकार बचाने के लिए जरूरी सीटों का आंकड़ा 112 हो जाएगा. बीजेपी के पास 106 सीट्स हैं और सरकार बचाने के लिए उन्होंने 112 सीट्स की जरूरत थी.

मतलब की इन उपचनावों में बीजेपी को कम से कम 6 सीट्स जीतने की जरूरत थी, लेकिन जनता की बदौलत बीजेपी डबल सीट्स मिलने उम्मीद जाग उठी हैं. वहीं कांग्रेस ने अपनी हार स्वीकार कर ली हैं और कहा है की, “उपचुनाव में जनता ने दल बदलने वालों को पसंद किया. नतीजे से निराश नहीं होना चाहिए.”

आपको बता दें की तत्कालीन मुख्यमंत्री कुमारस्वामी के फ्लोर टेस्ट से पहले कुल 17 विधायकों ने इस्तीफा दे दिया था. इस इस्तीफे को स्पीकर केआर रमेश कुमार ने अस्वीकार कर दिया था और सभी विधायकों को अयोग्य घोसित कर दिया था.

इसीलिए 15 सीट्स पर उपचुनाव हुए थे कांग्रेस और जेडीएस से अलग होकर आए विधायकों में से 13 विधायकों ने इस बार बीजेपी ने अपने टिकट पर उतारा था. नतीजा उन 13 में से 12 विधायकों ने जीत दर्ज़ की. दो सीटों मस्की और राजराजेश्वरी नगर पर कर्नाटक हाईकोर्ट में फैसला लंबित होने की वजह से यह तय नहीं हो सका की यहाँ चुनाव होंगे या फैसला पूर्व विधायकों के पक्ष में आएगा.

कर्नाटक में 224 विधानसभा सीट होती हैं, बहुमत का आंकड़ा 123 का हैं लेकिन क्योंकि 17 विधायकों को अयोग्य ठहरा दिया गया था. इसलिए विधानसभा की सीटों का आंकड़ा 207 रह गया था. इस आंकड़े की बदौलत बीजेपी को मात्र 104 विधायकों से बहुमत का आंकड़ा साबित करना था.

karnataka-bypoll-result-election-bjp-yeddyurappa-government-3
Pic Credit – Google Images

बीजेपी के पास पहले से ही 105 विधायक थे और 1 निर्दलीय के साथ आने पर यह आंकड़ा 106 हो गया और बीजेपी बहुमत साबित करने में कामयाब रही. अब क्योंकि 15 सीट पर उपचुनाव होते ही विधानसभा की सीट्स का आंकड़ा 222 हो जाता इसलिए बीजेपी को बहुमत के लिए 112 सीट्स से बहुमत साबित करना पड़ता.

अब क्योंकि बीजेपी के पास 118 सीट्स हो जाएंगी इसलिए अब अगले दो सीट्स पर चुनाव होने या न होने से बीजेपी को किसी प्रकार से कोई फर्क नहीं पड़ेगा और अब अगले चुनाव राज्य में विधानसभा का कार्यकाल समाप्त होने के बाद ही होंगे.