चीन को रौंदने के लिए,जापान तैयार कर रहा दुनिया का सबसे ज्यादा घातक लड़ाकू विमान….

0
958

चीन से लगातार बढ़ते तनाव को देखते हुए अब पड़ोसी देश अपनी सैन्य शक्ति को मजबूत करने में जुट गए हैं! इसके साथ साथ इतने भी सेना के आधुनिक करण की शुरुआत कर दी है! अब जापान ने दुनिया के सबसे शक्तिशाली लड़ाकू विमान में से एक को बनाने की घोषणा की है! संभावना यह जताई जा रही है कि अगले दशक में देश की महत्वपूर्ण वायु रक्षा भूमिका संभालने के लिए एक डबल इंजन वाला विमान तैयार कर लिया जाएगा!

सरकार ने बजट जारी किया

इस हफ्ते रक्षा मंत्रालय ने देश की संसद में सदस्यों को बताया है कि छठी पीढ़ी के लड़ाकू विमानों का उत्पादन वित्त वर्ष 2031 में शुरू होगा! जिसके चलते देश में लगभग 100 F-2 Jet, एक इंजन वाली चौथी पीढ़ी के पुराने बेड़े की जगह लेगा! जिसके लिए रक्षा बजट में 261 मिलियन डॉलर से अधिक का आवंटन किया गया है! इस बजट में ड्रोन की प्रणाली को विकसित करने का भी धन शामिल है जो स्टेल्थ जेंट्स के साथ काम करेगा! विशेष तौर से जापान का प्रतिद्वंदी चीन नई फाइटर जेट्स में निवेश कर रहा है जिसमें J-20 भी शामिल है! जापानी रक्षा मंत्री ने पिछले महीने जापानी लड़ाकू बेड़ा को बढ़ाने का दबाव डाला था! जब उन्होंने कहा कि जापान की वायु आत्मरक्षा बल जापानी क्षेत्र के पास चीनी सैन्य उड़ानों के जवाब में लड़ाकू जेट विमानों को मजबूत करने की तरफ कदम बढ़ाएगी!

f-35 खरीद को मंजूरी

जापान के लड़ाकू विमान बनाने की खबरों के बीच अमेरिका शेष 100 से अधिक f-35 लड़ाकू जेट खरीदेगा जिसके लिए अमेरिका की तरफ से अनुमति दे दी गई है! अमेरिकी रक्षा सुरक्षा सहयोग एजेंसी यह प्रस्तावित बिक्री संयुक्त राज्य अमेरिका की विदेश नीति के लक्ष्यों और राष्ट्रीय सुरक्षा उद्देश्यों का समर्थन करेंगी जो एशिया प्रशांत क्षेत्र में राजनीतिक स्थिरता और आर्थिक प्रगति के लिए एक प्रमुख सहयोगी है! यह अमेरिका के राष्ट्र हित के लिए महत्वपूर्ण है कि जापान को मजबूत और प्रभावी आत्मरक्षा क्षमता विकसित करने और बनाए रखने में सहायता करें! इस सौदे की लागत का अनुमान 23 बिलियन डॉलर का है!

बता दें कि जापान F-35 को संचालित करने की योजना बना रहा है! जापान ने होंशु द्वीप के उत्तरी किनारे पर मिसावा एयर बेस में 13 विमानों का पहला स्क्वाड्रन पिछले साल चालू किया था! इन विमानों में से 1 अप्रैल 1 रात के प्रशिक्षण मिशन के दौरान प्रशांत महासागर में दुर्घ टनाग्रस्त हो गया था! पेंटागन ने f-35 को दुनिया के सबसे उन्नत एविनिक्स इंजन और हथियार के साथ सबसे सस्ता घातक सहायक और जीवित रहने योग्य विमान बताया है!