हरभजन है PM मोदी का फैन? पंजाब के कांग्रेसी सरकार ने खेल रत्न का अवार्ड देने से किया मना, नाम लिया वापिस…

0
347
Harbhajan said that my nomination for Rajiv Gandhi Khel Ratna Award was withdrawn

Harbhajan said that my nomination for Rajiv Gandhi Khel Ratna Award was withdrawn: भारतीय क्रिकेट टीम के ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने बीते शनिवार को यह स्पष्ट कर दिया है कि पंजाब सरकार ने इस साल के राजीव गांधी खेल रतन पुरस्कार के लिए उनका नामांकन वापस लेने का फैसला लिया है! यह फैसला इसलिए लिया गया है क्योंकि वह सर्वोच्च खेल सम्मान की पात्रता के मानदं-ड पर फिट नहीं बैठते हैं! जिसके लिए हरभजन सिंह ने ट्वीट कर लिखा है कि “मुझे इतने सारे फोन आ रहे हैं कि पंजाब सरकार ने मेरा नाम खेल रत्न नामांकन से वापस क्यों ले लिया! सच यह है कि मैं खेल रत्न के लिये योग्य नहीं हूं जिसमें मुख्यत: पिछले तीन साल के अंतरराष्ट्रीय प्र-दर्शन को देखा जाता है!”

ऑफ स्पिनर का कहना है कि “पंजाब सरकार की इसमें कोई भी गलती नहीं है! क्योंकि उन्होंने सही कारण से मेरा नाम हटाया है! मीडिया में मेरे दोस्तों से अनुरोध करूंगा कि अटकलें न लगाएं!”

खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढ़ी ने इस बारे में कहा कि हरभजन सिंह को ईमेल मिलने के बाद ही उनका नाम वापस लिया गया है! जिसके चलते उन्होंने कहा कि “हमने उनका नामांकन भेजा था लेकिन इससे पहले कि वह चयन समिति के पास जाता हरभजन ने हमसे नामांकन वापस लेने के लिए कहा!” उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि उन्होंने खेल रतन के लिए भारत सरकार के मानदं-ड देखे होंगे! या कुछ उन्हें ऐसा लगा होगा कि वह पात्रता के दायरे में नहीं आते या वह किसी और सम्मान के लिए आवेदन कर रहे हो! वह हमसे जब भी कहेंगे हम उनके नाम की अनुशंसा करेंगे क्योंकि यह शीर्ष खिलाड़ी और शानदार इंसान है!

बता दे कि भारतीय क्रिकेट टीम के ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह को अर्जुन पुरस्कार और पदम श्री अवार्ड से नवाजा जा चुका है! हरभजन सिंह ने टेस्ट और वनडे में अंतिम बार 2015 में भारत के लिए मैच खेला था! उन्होंने अपने कैरियर में अभी तक 417 टेस्ट मैच में विकेट लिए हैं और 269 वनडे मैच में विकेट हासिल किए हैं!