Tuesday, September 27, 2022

दिल्ली सरकार द्वारा हज हाउस निर्माण के खि लाफ सड़क पर उतरे लोग, देखें वीडियो

Delhi: दिल्ली के द्वारका सेक्टर 22 में लगभग 100 करोड़ की लागत से बन रहा हज हाउस (Haj House) को लेकर लगभग दिल्ली के 400 गांव से ज्यादा के लोग एकजुट होकर हज हाउस निर्माण को नहीं बनने देने की बात कर रहे हैं। 400 गांव के लोगों ने कहा कि केजरीवाल (Arvind Kejriwal) सिर्फ एक विशेष समुदाय के लोगों को खुश करने में लगी है। साथ ही साथ उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली वालों को स्कूल(School), अस्पताल(Hospital), अच्छे रोड(Good Road) चाहिए ना कि हज हाउस। क्या है पूरा मामला आइए आपको विस्तार से बताते हैं।

हमें हज हाउस नहीं, स्कूल और अस्पताल चाहिए– गांव के लोग

दरअसल बीते दिनों में द्वारका सेक्टर 22 मैं निर्माण होने वाली हज हाउस को लेकर लगभग 400 गांव के लोग इकट्ठा होकर हज हाउस के साथ-साथ अरविंद केजरीवाल का वि रोध करने सेक्टर 22 पहुंचे थे। इसी दौरान ओ न्यूज़ के पत्रकार द्वारा उनसे सवाल पूछा गया की आखिर वो लोग यहां क्यों आए हैं और क्या मांग है? सवाल का जवाब देते हुए उनमें मौजूद कई लोग यह कह रहे हैं कि हमें हज हाउस नहीं स्कूल और अस्पताल चाहिए। अरविंद केजरीवाल सरकार धर्म के नाम पर राजनीति कर रही है।

ये भी पढ़े : ये संगठन योगी आदित्यनाथ नहीं फहराने देगा 15 अगस्त को तिरंगा

चाहे कुछ भी हो जाए हम हज हाउस का निर्माण नहीं होने देंगे– भरत बत्रा

बजरंग दल के नेता भरत बत्रा के नेतृत्व में लगभग 400 लोग द्वारका सेक्टर 22 स्थित हज हाउस के पास मौजूद थे। मीडिया से बातचीत करने के दौरान भरत बत्रा ने कहा कि चाहे कुछ भी हो जाए हम दिल्ली में हज हाउस का निर्माण नहीं होने देंगे। आगे उन्होंने कहा कि दिल्ली हो या हरियाणा हम भारत में हज हाउस का निर्माण नहीं होने देंगे। हज हाउस निर्माण में एक ईंट का भी इस्तेमाल नहीं होगा। अगर हज हाउस का निर्माण होता है तो बजरंग दल हज हाउस को मिट्टी में मिला सकता है।

मदरसों को लेकर भी किया सवाल

मदरसों पर सवाल उठाते हुए एक व्यक्ति ने कहा कि आखिर इन मदरसों को सरकारी फंडिंग क्यों दी जाती है। अरविंद केजरीवाल सरकार न माज पढ़ाने वाले इमाम को हर महीने सैलरी देती है। वहीं दूसरी तरफ मंदिर में मौजूद पुजारियों को सैलरी क्यों नहीं देती। क्या यह पक्ष पात नहीं है। आगे उन्होंने कहा कि दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया दिल्ली मैं झुग्गी बना कर रोहिंगा और बांग्लादेशियों को शरण दे रहे हैं। क्या यह देश आम आदमी पार्टी का है या रोहिंगा का। ये हक़ केजरीवाल को किसने दिया।

प्रतिवर्ष 15 से 20 हजार लोग दिल्ली से हज करने जाते हैं

आपको बता दें कि दिल्ली में हज हाउस बनाने के लिए दिल्ली सरकार ने द्वारका सेक्टर 22 में जमीन आवंटित की है।  जिसका लेआउट अब तैयार हो गया है। दिल्ली से हज यात्रा के लिए जाने वाले यात्रियों को आने वाले वर्ष 2022 के मध्य में हज हाउस की सुविधा मिलने की संभावनाएं जताई जा रही है। प्रतिवर्ष 15 से 20 हजार हज यात्री दिल्ली से हज करने जाते हैं। अगर सुविधाओं की बात करें तो इसमें शयनगृह, वीआईपी सूइट्स, आप्रवासन काउंटर, न माज के लिए हॉल, रसोई और डाइनिंग हॉल शामिल होंगे।

देखें वीडियो

 

RELATED ARTICLES

Most Popular