राजस्थान: बंद होने के कगार पर थे 3240 मदरसे, कांग्रेस सरकार ने जारी किए 188 करोड़

0
607
cm-ashok-gehlot-sanctions-rs-188-crore-for-madrasas-1
Pic Credit - Google Images
cm-ashok-gehlot-sanctions-rs-188-crore-for-madrasas-2
Pic Credit – Google Images

मोदी सरकार ने राजस्थान में इस बार मदरसों की ग्रांट नहीं भेजी थी, इस मुद्दे पर अशोक गहलोत ने आगे आते हुए राज्य सरकार के फंड में से 188 करोड़ रूपए की ग्रांट मदरसों को जारी कर दी. मीडिया को जानकारी देते हुए अल्पसंख्यक मामलों के राजस्थान के राज्य मंत्री सालेह मोहम्मद ने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को ‘सबका साथ, सबका विकास’ वाला नारा भी याद दिलाया.

सालेह मोहम्मद ने कहा की, “केंद्र और पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा अल्पसंख्यकों की मदद करने के लिए किए गए सभी लंबे वादे विफल रहे हैं. मैं मदरसों को अनुदान के रूप में 188 लाख रुपये प्रदान करने के लिए राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत को धन्यवाद देना चाहता हूं.”

कांग्रेस सरकार के इस रवैये से की मोदी सरकार मुसलमानों के लिए कुछ नहीं कर रही, इसपर राजनीति होना तो तय था ऐसे में सबसे पहले बीजेपी के मुख़्तार अब्बास नक़वी ने और फिर जमीयत उलेमा-ए-हिंद के महासचिव मौलाना महमूद मदनी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अल्पसंख्यकों की बेहतर शिक्षा के लिए किये गए कामों को गिनवाया.

इसी दौरान जवाब देते हुए बीजेपी के मुख़्तार अब्बास नक़वी ने मीडिया से कहा की, “विशेष रूप से ‘3 ई एस – शिक्षा, रोजगार और अधिकारिता’ के माध्यम से अल्पसंख्यकों की लड़कियों के सामाजिक-आर्थिक-शैक्षिक सशक्तीकरण को सुनिश्चित करने के लिए, प्री-मैट्रिक, पोस्ट-मैट्रिक, मेरिट-कम-मीन्स इत्यादि सहित विभिन्न छात्रवृत्ति अगले 5 वर्ष में पांच करोड़ छात्रों को प्रदान की जाएगी.”

cm-ashok-gehlot-sanctions-rs-188-crore-for-madrasas-3
Pic Credit – Google Images

इसके साथ ही नरेंद्र मोदी के बचाव में उतरे जमीयत उलेमा-ए-हिंद के महासचिव मौलाना महमूद मदनी ने भी प्रदाहन मंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना की है, मदरसा आधुनिकीकरण करने के लिए सरकार का धन्यवाद भी किया है लेकिन साथ ही उन्होंने पीएम से पार्टी में “प्रेरक” शासन करने का आग्रह किया. उन्होंने कहा है की जो बीजेपी के नेता/मंत्री अल्पसंख्यक समुदाय और इस्लाम को नियमित रूप से निशाना बनाते हुए बयानबाजी कर रहे हैं, उनपर कार्यवाही हो.