गहलोत सरकार नही बच सकती? भाजपा ने MLA का रेट बढ़ा दिया : अशोक गहलोत

0
591

राजस्थान में चल रहे सियासत के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बड़ा आ-रोप लगाया है! अशोक गहलोत ने यह दावा किया है कि जब से विधानसभा सत्र की तारीखों का ऐलान हुआ है तब से हॉर्स ट्रेंडिंग का रेट बढ़ गया है! विधानसभा सत्र की तारीखों के ऐलान से पहले 10, 15 और 25 करोड़ का रेट था लेकिन अब यह रेट अनलिमिटेड हो गया है! इसके चलते अब हमारे विधायकों के पास फोन भी आने लगे हैं! राजस्थान के मुख्यमंत्री ने आज शाम होटल फेयर माउंट के बाहर मीडिया से बातचीत करते हुए आरोप लगाते हुए कहा कि लोग मानसेर के होटलों में बैठे हैं उनको पता ही नहीं उनमें से किन-किन लोगों ने पहली किस्त ली है! उनका कहना है कि हालांकि कुछ विधायक ऐसे भी हैं जिन्होंने कोई किस्त नहीं ली! ऐसे मेरा आग्रह है कि वह सब लोग वापस आ जाएगा और हमारे साथ रहे!

नेताओं पर साधा निशाना

राजस्थान मुख्यमंत्री ने अपने खेमे के नेताओं पर निशाना साधते हुए कहा कि जो लोग गए हैं वह कह रहे हैं कि भारतीय जनता पार्टी में नहीं जाएंगे! तीसरा मोर्चा बनाएंगे! तो कभी कहते हैं कि कांग्रेस नहीं छोड़ेंगे! सभी जानते हैं कि पार्टी छोड़ने वाले संविधान में क्या प्रावधान है! मुख्यमंत्री ने कहा कि जो लोग भाजपा की गोद में खेल रहे हैं उन्हें लोग कभी माफ नहीं करेंगे! मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर बागी विधायकों को मुझसे कोई शिकायत थी, तो वे एआईसीसी में जाएंगे और पार्टी हाईकमान से बात करेंगे! जिन विधायकों ने पार्टी का चुनाव चिन्ह जीता है, उनका कर्तव्य है कि वे सरकार के साथ खड़े हों! विधानसभा सत्र बुलाया गया है, मैं चाहूंगा कि वे विधानसभा सत्र में भाग लें! विधायकों के बयान लेने के लिए एसओजी दिल्ली में घूम रही है लेकिन विधायक अपने बयान दर्ज नहीं करा रहे हैं!

खातिरदारी कर रही है बीजेपी

मुख्यमंत्री ने कहा कि मानेसर में, बीजेपी इन विधायकों की देखभाल कर रही है, सभी व्यवस्थाएं बीजेपी ने वहां की हैं! बीजेपी इस पूरे खेल में शामिल है! भाजपा नेता चुपचाप दिल्ली चले जाते हैं और विधायकों से मिलते हैं!

जनता नहीं करेगी माफ

भाजपा पर निशाना साधते हुए गहलोत ने कहा कि भाजपा इस पूरे खेल में शामिल है और देश और राज्य की जनता भाजपा को माफ नहीं करेगी! केंद्र में मोदी सरकार बहुमत में है, लेकिन कोरोना जैसी महामारी से लड़ने के बजाय, सरकार ने थाली और ताली बजाई! केंद्र सरकार में बैठे लोग साजिश कर रहे हैं! एक नाम सामने आया है जो ऑडियो है और सभी जानते हैं कि गजेंद्र सिंह शेखावत की आवाज है! इसके बावजूद, उनका इस्तीफा नहीं हुआ, जब की उस समय की कांग्रेस सरकार ने रेल मंत्री, कानून मंत्री के पद से भी इस्तीफा दे दिया था! लेकिन केंद्र की मोदी सरकार ने उनके मंत्री के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की! गहलोत ने कहा कि भाजपा को सरकार को गिराने की आदत छोड़ देनी चाहिए, इससे लोकतंत्र कमजोर होगा! कोरोना से लोगों के जीवन के लिए हर किसी को लड़ना चाहिए!