गृह मंत्री अमित शाह ने वो कर दिखा दिया, दुनिया के शिर्ष नेता सोच भी नही सकते थे…..

0
667

आज कोरोना वायरस के समय में सारे विश्व भर के लीडर्स की परीक्षा चल रही है क्योंकि जिन मुसीबतों से बचाने के लिए इन नेताओं को चुना जाता है क्या यह उनमें वाकई में ही सफल हो पा रहे हैं या नहीं? आज की समय की बात करें तो अधिकतर लोग इसमें फेल ही हो रहे हैं क्योंकि हम कोरोना के मद्देनजर चीजों को देखे तो हालात दिन प्रतिदिन सुधरने की वजह बिगड़ती ही जा रहे हैं! अब किस में चाहे दुनिया का कोई भी देश को रूस हो, अमेरिका हो या फिर कोई भी! भारत देश के अंदर भी हालात बिगड़ते ही जा रहे हैं लेकिन एक जगह ऐसी भी है जहां इन दिनों सुकून परस रहा है!

बात करें अभी से 3 महीने पहले तक की तो दिल्ली के हालात बड़े ही खराब थे और उनकी हालत पतली हो रखी थी उस समय रिकवरी रेट भी 35% के आसपास लटक रहा था! लेकिन उसके बाद दिल्ली के केजरीवाल सरकार ने केंद्र सरकार से मदद मांगी तो फिर इस पूरी प्रक्रिया का चार्ज अमित शाह ने अपने हाथों में ले लिया! जिसके बाद से वह अस्पताल और डॉक्टर आदि का काम लगातार देखे जा रहे हैं!

अमित शाह के हाथों में काम आने के बाद आज दिल्ली के हालात यह हो गए हैं कि वहां पर रिकवरी रेट 80 से 85% के बीच आ गया है! यदि गधी सही रही तो जल्द ही है रिकवरी रेट 90% को भी खुश हो जाएगा जो अपने आप में ऐतिहासिक रिकॉर्ड जैसा होगा! क्योंकि इस समय दुनिया के बड़े-बड़े नेता तड़पाने में फेल हो रहे हैं जबकि अमित शाह ने महज कुछ ही हफ्तों में चीजों को अच्छे से मैनेज कर दिया है और इन सभी चीजों में दिल्ली के मुख्यमंत्री का भी पॉजिटिव सहयोग मिला है इस बात को भी नकारा नहीं जा सकता!

इतना ही नहीं बल्कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद दिल्ली के मॉडल को बाकी राज्यों को अपनाने की सलाह दे चुके हैं और कहीं ना कहीं महाराष्ट्र से राज्यों को तो अमित शाह से सीख लेने की वाक्य में ही जरूरत है क्योंकि वहां पर नेता आदि राजनीति और लोगों की जान पर जान जा रही है!