पत्थरबाजी में पकड़े जाने पर ‘हिन्दू’ नाम बताया, पुलिस का डंडे देख ‘अल्लाह’ कसम खाया

allah-swear-i-did-not-move-stones-2
Pic Credit – Google Images

एक तरफ पुरे देश में विपक्षी दल और वामपंथी मीडिया की मिली-जुली सहमति से भारत के मुसलमानों को डराया और बौखलाया गया. उसके बाद पुरे देश में इन मुसलमानों ने आतंक मचाना शुरू कर दिया. बिना बिल को पढ़े बिना बिल को जाने इसे इस्लाम और मुसलमान विरोधी साबित कर दिया.

खैर देश भर में चल रही हिंसा के बीच एक मामला उत्तर प्रदेश से सामने आया हैं, मामला गोरखपुर का बताया जा रहा हैं. गोरखपुर में CAA के विरोध में बहुत सारे मुसलमान विरोध प्रदर्शन कर रहें थे.

इन्हीं में से एक लड़का पुलिस ने पकड़ लिया और उसने उस लड़के को एसडीएम के सामने किया. पुलिस वाले ने बताया की यह लड़का पथरबाज़ी कर रहा था, इसलिए मैने इसे पकड़ा हैं. लेकिन लड़का इस बात से पलट गया और बोला की मैंने पत्थर बाज़ी नहीं की फिर मजेदार वाक्या क्या हुआ आईये जानते हैं…

एसडीएम – नाम क्या है?

युवक – पंकज तिवारी.

एसडीएम – बाप का नाम?

युवक – (सोचकर) गौरी तिवारी.

सिपाही – लेकिन सर, इसे पत्थर चलाते मैनें खुद देखा था.

युवक – (घबराकर) अल्ला कसम! मैं पत्थर नहीं चला रहा था.

allah-swear-i-did-not-move-stones-4
Pic Credit – Google Images

उसके बाद पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया, लेकिन यह वाक्या अपने आप में बहुत ही ज्यादा हैरान करने वाला था. खैर आज नरेंद्र मोदी जी ने अपने भाषण में CAA कानून का दुष्टप्रचार करने वाले विरोधी दलों को जमकर खरी-खोटी सुनाई है. CAA कानून वापिस नहीं होगा और NRC कानून पुरे देश में लागू होगा, इसके इलावा जनसँख्या कानून का भी ड्राफ्ट त्यार हैं और CIVIL Code भी जल्द आने वाला हैं.

ऐसे में सबसे पहले उत्तर प्रदेश की तरह पुरे देश में एक कानून बनाने की जरूरत है जो भी हिसंक प्रदर्शन में पकड़ा जाएगा उसकी संपत्ति कुर्क करके ही देश में हुए नुक्सान की भरपाई होगी. जिसके बाद 400-500 रूपए या शराब की बोटल के लालच में यह लोग देश को आग में झोंकने से पहले चार बार सोच-विचार करेंगे.

HumLog
HumLoghttp://humlog.co.in/
HumLog.co.in समाचारों व विचारों का ऐसा पोर्टल, जो आप तक उन ख़बरों को लाता है, जिन्हें भारत की मेनस्ट्रीम मीडिया अक्सर दबा देती है या नजरअंदाज करती है.
RELATED ARTICLES

Most Popular