वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज होगा “श्री राम” का नाम,विश्व मे श्री राम से बड़ा नही होगा कोई…

0
918
World's tallest statue, A 251 meters high statue of Lord Shri Ram , Ayodhya, ram mandir, shree ram statue

अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण के लिए भूमि पूजन के कार्यक्रम का मुहूर्त तय होते ही प्रभु श्री राम की प्रतिमा पर भी काम शुरू हो गया है जो अयोध्या ही नहीं बल्कि भारत को विश्व के पटल पर सबसे ऊंचा स्थान दिलाएगी! उत्तर प्रदेश सरकार ने भगवान श्री राम की 251 मीटर ऊंची प्रतिमा अयोध्या में लगाने की तैयारी शुरू कर दी है!

भगवान श्री राम की प्रतिमा को बनाने का जिम्मा एक बार फिर से देश के सर्वश्रेष्ठ मूर्तिकार राम सुतार को सौंपा गया है! राम सुतार वही मूर्तिकार है जिन्होंने गुजरात में सरदार पटेल की 183 मीटर ऊंची प्रतिमा डिजाइन की, जिस मूर्ति ने नए कीर्तिमान छुए!

‘श्रीराम’ पूरी तरह से स्वदेशी होंगे

बता दें कि मूर्तिकार राम सुतार और उनके बेटे अनिल सुतार पहले ही पद्म भूषण से सम्मानित हो चुके हैं! इस समय भगवान राम की प्रतिमा के निर्माण में राम सुतार व्यस्त है! उनके अनुसार भगवान राम की प्रतिमा का डिजाइन पारित होने के बाद उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ बातचीत की है!

जिसके बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री का कहना है कि यह प्रतिमा पूरी तरह से स्वदेशी होनी चाहिए! मुख्यमंत्री की बात सुनने के बाद मूर्तिकार राम सुतार ने आश्वासन दिया है कि यह प्रतिमा पूरी तरह से स्वदेशी होगी और वह इसे केवल उत्तर प्रदेश में ही बनाया जाएगा!

उन्होंने बताया कि इस मूर्ति के निर्माण कार्य शुरू होने के बाद इसको पूरा होने में लगभग साढ़े तीन साल लगेंगे! अब यही उम्मीद की जा रही है कि अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के भूमि पूजन के बाद प्रतिमा के निर्माण का कार्य पूरी तरीके से शुरू हो जाएगा!

मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम दुनिया में सबसे ऊंचे होंगे | World’s tallest statue

बता दें कि दुनिया में गौतम बुद्ध की, अभी तक सबसे ऊंची मूर्ति चीन में है जिसकी ऊंचाई 208 मीटर है! लेकिन जो प्रतिमा अयोध्या में प्रभु श्री राम की स्थापित होगी उसकी ऊंचाई 251 मीटर (World’s tallest statue) होगी! यानी इसके निर्माण के साथ ही यह दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा होगी!

बता दें कि यह प्रतिमा 20 मीटर ऊंचा घेरा और 20 मीटर ऊंचे बेस पर खड़ी होगी! इतना ही नहीं बल्कि इस प्रतिमा के आधार के नीचे एक भव्य संग्रहालय भी होगा जहां पर भगवान विष्णु के सभी अवतारों को तकनीकी माध्यम से दिखाया जाएगा! इसके साथ-साथ यहां डिजिटल म्यूजियम, फूड प्लाजा, लैंड स्केपिंग, लाइब्रेरी और रामायण काल की गैलरी थी बनाई जाएगी!